भू-अर्जन अध्यादेश वापस ले केंद्र : जोगी

रायपुर : छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने आरोप लगाया है कि भाजपा की राज्य सरकार द्वारा लगातार किसान विरोधी कदम उठाए जाने के बाद अब केंद्र सरकार ने भी अध्यादेश जारी करके किसानों के हितों पर कुठाराघात किया है। किसानों की भूमि का अधिग्रहण करने के लिए जो नया कानून अध्यादेश जारी करके बनाया गया है, वह पूर्णत: उद्योगपतियों के हित में है। यूपीए शासन ने लगातार तीन वर्षो तक विभिन्न वर्गो से चर्चा करके किसानों के हित में भू-अर्जन का जो कानून बनाया था, उसमें बुनियादी और आमूलचूल परिवर्तन किया गया है।

उन्होंने कहा कि संप्रग द्वारा पारित कानून बाकायदा संसद में पारित हुआ था। भाजपा उस कानून को संसद में बदलकर पारित करने का साहस नहीं जुटा पाई। संसद सत्र समाप्त होते ही अध्यादेश जारी करके किसान हितैषी भू-अर्जन कानून को बदलकर उद्योग हितैषी बना दिया गया।

जोगी ने कहा कि कांग्रेस ने इस नए कानून का पुरजोर विरोध किया है। किसान विरोधी इस नए कानून को आम जनता कभी स्वीकार नहीं करेगी। जोगी ने इस नए कानून का विरोध करते हुए मांग की है कि इसे तत्काल वापस लिया जाए।

You must be logged in to post a comment Login